Warning: Attempt to read property "post_excerpt" on null in /home/u525298349/domains/jeanspants.info/public_html/wp-content/themes/blogus/single.php on line 77

मसूरी के रास्ते में आपने एक लाल रंग का मंदिर देखा होगा जो बहुत प्रसिद्ध है क्योंकि इसमें हर दिन कई भक्त आते हैं। यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। इस मंदिर को प्रकाशेश्वर मंदिर कहा जाता है, और अब यह देहरादून में सबसे अधिक देखे जाने वाले पवित्र स्थलों में से एक बन गया है। हरी-भरी पहाड़ियों में बसा हुआ। कुठाल गेट के पास शिव मंदिर रणनीतिक रूप से मसूरी के रास्ते में है।इस मंदिर में न केवल स्थानीय लोग बल्कि देश भर से मसूरी आने वाले श्रद्धालु और पर्यटक आते हैं।

यहां स्फटिक पत्थर से बना एक अनोखा शिवलिंग है जो मंदिर का मुख्य आकर्षण है। शिवरात्रि और सावन के अवसर पर विशेष पूजा और आरती का आयोजन किया जाता है। दिव्य शिव मंदिर एक सुंदर स्थान पर बना है जहाँ से आप दून घाटी का दृश्य देख सकते हैं। यहां से जगमगाते दून का खूबसूरत नजारा देखा जा सकता है।मंदिर हर दूसरे दिन एक दावत या भंडारे का आयोजन करता है, जहां वे भक्तों को प्रसाद देते हैं।

Prakasheshwar Shiv Mandir Dehradun

यहाँ पर रखे है दो ऐसे शिवलिंग जो दुनिया में है बहुत कीमती

यदि आप देहरादून में एक छोटी ड्राइव की तलाश में हैं तो यह आपके लिए उपयुक्त स्थान हो सकता है। वे शाम को चाय भी परोसते हैं। मंदिर में आभूषणों की कुछ छोटी दुकानें खुली हैं जो कीमती पत्थर और रत्न बेचती हैं। यह मंदिर अपनी छत पर शिव के त्रिशूलों के साथ एक दिलचस्प वास्तुकला का दावा करता है। मंदिर की दीवारें लाल, नारंगी और बीच में काले रंग से रंगी हुई हैं।मंदिर का इतिहास अज्ञात है और कई स्थानीय लोगों का मानना ​​है कि इसे शिव के अनुयायियों में से एक ने बनवाया था।

शिव मंदिर मसूरी रोड देहरादून जाते समय याद रखने योग्य बातें:प्रकाशेश्वर महादेव मंदिर जाते समय ध्यान दें कि आपको कुछ भी चढ़ाने की अनुमति नहीं है। यह मंदिर उन कुछ मंदिरों में से है जो किसी भी प्रकार का दान स्वीकार नहीं करते हैं। वे गुमनाम दान भी स्वीकार नहीं करते.भक्तों को मंदिर की तस्वीरें लेने की सख्त मनाही है।

Prakasheshwar Shiv Mandir Dehradun

शाम को सबसे बढ़िया विकल्प है प्रकाशेश्वर महादेव मंदिर

कोई भी व्यक्ति मंदिर में पूजा कर सकता है और मंदिर की रसोई में परोसा जाने वाला प्रसाद या चाय ले सकता है।चूंकि यह क्षेत्र बंदरों के आतंक के लिए काफी लोकप्रिय है, इसलिए खुले में खाना न खाएं और अपने सामान का ध्यान रखें।सड़क पर कई कैफे हैं जहां आप घूम सकते हैं और अपने स्वाद को कुछ दिलचस्प स्वाद दे सकते हैं, जहां से पूरी दून घाटी का खूबसूरत नजारा दिखता है।

सुरम्य परिवेश और आकर्षक दून घाटी के बीच देहरादून का प्रसिद्ध शिव मंदिर, श्री प्रकाशेश्वर महादेव मंदिर स्थित है। यह देहरादून के सबसे लोकप्रिय पवित्र स्थानों में से एक है और सुस्वादु हरियाली से भरपूर पहाड़ियों के बीच स्थित है।

हर साल हर महीने में देहरादून में देश भर से पर्यटकों की भारी भीड़ देखी जाती है और मसूरी भी एक खूबसूरत जगह है जहां दैनिक या साप्ताहिक आधार पर पर्यटक आते हैं। यदि आप दिल्ली/एनसीआर की भयानक गर्मी से बचना चाहते हैं, तो देहरादून आपको बेहतरीन राहत प्रदान करता है।देहरादून घूमने के लिए अक्टूबर से मई सबसे अच्छा समय है। आप सर्द सर्दियों की आभा का अनुभव कर सकते हैं या गर्मियों की शांत सेटिंग का आनंद ले सकते हैं।

देहरादून के प्रकाशेश्वर शिव मंदिर कैसे पाएं

देहरादून रेलवे, सड़क और वायुमार्ग से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है। आप किसी भी माध्यम से देहरादून पहुंच सकते हैं। वहां से आप विभिन्न स्थानों जैसे टैक्सी ले सकते हैं। शिव मंदिर खाला गाँव में है, जो देहरादून से मसूरी जाने वाले रास्ते पर डायवर्जन के पास है।यह देहरादून से केवल 9 किमी दूर मसूरी रोड पर कुठाल गेट के पास है।

  • दिल्ली से प्रकाशेश्वर मंदिर की दूरी: 420 K.M.
  • देहरादून से प्रकाशेश्वर मंदिर की दूरी: 430 K.M.
  • हरिद्वार से प्रकाशेश्वर मंदिर की दूरी: 378 K.M.
  • ऋषिकेश प्रकाशेश्वर मंदिर की दूरी: 394 K.M.
  • चंडीगढ़ से प्रकाशेश्वर मंदिर की दूरी: 573 K.M.

यह मंदिर देहरादून बस स्टॉप से ​​केवल 8 किमी दूर है। यह देहरादून रेलवे स्टेशन से 7 किमी और देहरादून के जॉली ग्रांट हवाई अड्डे से 34 किमी दूर है।राजपुर के लिए बस लेकर कोई भी आसानी से मंदिर तक पहुंच सकता है, जो कुठाल गेट तक जाती है।यहां से 5-10 मिनट की छोटी सी पैदल दूरी आपको मंदिर तक ले जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *