Warning: Attempt to read property "post_excerpt" on null in /home/u525298349/domains/jeanspants.info/public_html/wp-content/themes/blogus/single.php on line 77

उत्तराखंड में राज्य आयुष्मान भव अभियान का आयोजन करने जा रहा है, इसके तहत राज्य भर में 700 रक्तदान शिविर आयोजित किए जाएंगे। इसमें आयुष्मान योजना का भी लाभ उठाया जा सकता है। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 10-10 शिविर आयोजित किये जायेंगे जिसमें स्वयंसेवी संस्थाओं, एनएसएस, रेड क्रॉस सोसायटी, स्काउट्स-गाइड्स एवं रोवर रेंजर्स के साथ ही स्वास्थ्य, शिक्षा, शहरी विकास, पंचायती राज, महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग भाग लेंगे सहित स्थानीय जन प्रतिनिधि शामिल होंगे।

स्वच्छ रक्तदान और अंगदान के लिए करें पंजीकरण

इन शिविरों में स्वैच्छिक रक्तदान के साथ-साथ रक्तदान, अंगदान और देहदान के लिए पंजीकरण भी किया जाएगा। जबकि राजकीय संयुक्त चिकित्सालयों एवं आयुष्मान हेल्थ एवं वेलनेस सेंटरों में साप्ताहिक स्वास्थ्य मेलों का आयोजन किया जाएगा, जहां चिकित्सक स्थानीय लोगों के स्वास्थ्य परीक्षण के साथ-साथ गैर संचारी रोगों की भी जांच करेंगे।

आयुष्मान भव अभियान के दौरान आयुष्मान आपके कार्यक्रम के तहत प्रत्येक व्यक्ति का आयुष्मान कार्ड और आभा आईडी बनाई जाएगी। जिन ग्राम सभाओं एवं शहरी वार्डों में शत-प्रतिशत आयुष्मान कार्ड बनाये जायेंगे उन्हें भारत सरकार द्वारा क्रमशः आयुष्मान ग्राम एवं आयुष्मान शहरी वार्ड घोषित किया जायेगा।

यह बात प्रदेश के चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने आयुष्मान भव अभियान के शुभारम्भ के अवसर पर राजभवन, देहरादून में आयोजित कार्यक्रम में कही। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के जन्मदिन 17 सितम्बर 2023 से 2 अक्टूबर 2023 को गांधी जयंती तक पूरे प्रदेश में सेवा पखवाड़ा आयोजित किया जायेगा।

वहीं आयुष्मान भव अभियान के तहत 31 दिसंबर तक आयुष्मान आपके द्वार 3.0 कार्यक्रम के तहत हर व्यक्ति का आयुष्मान कार्ड और आभा आईडी बनाई जाएगी. इसी प्रकार आयुष्मान हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर एवं राजकीय संयुक्त चिकित्सालयों पर साप्ताहिक स्वास्थ्य मेलों का आयोजन किया जायेगा। जिसमें स्वास्थ्य विभाग स्थानीय लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण कर हेल्थ एंड वेलनेस सेंटरों पर गैर संचारी रोगों की जांच करेगा।

इसी क्रम में 02 अक्टूबर को ग्राम सभाओं एवं शहरी वार्डों में आयुष्मान सभा का आयोजन किया जायेगा। जिसमें आम लोगों की जांच के साथ आयुष्मान कार्ड का वितरण किया जाएगा और रक्तदान शिविर का भी आयोजन किया जाएगा. विभागीय मंत्री ने कहा कि अगले तीन माह में राज्य के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 10 रक्तदान शिविर आयोजित किये जायेंगे।

जिसमें आवश्यकतानुसार एवं राज्य की रक्त भण्डारण क्षमता के अनुरूप स्वैच्छिक रक्तदान एवं रक्तदान हेतु पंजीयन का कार्यक्रम किया जायेगा। इसके अलावा शिविर में लोगों को अंगदान और देहदान के बारे में जागरूक किया जाएगा और उन्हें अंगदान और देहदान की शपथ दिलाई जाएगी. आयुष्मान भव अभियान से संबंधित कार्यक्रमों को सफल बनाने के लिए स्थानीय स्तर पर सांसद, क्षेत्रीय विधायक, जिला पंचायत अध्यक्ष, महापौर, नगर निकायों के अध्यक्ष, ब्लॉक प्रमुख सहित स्थानीय जन प्रतिनिधि उत्साहपूर्वक भाग लेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *